अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो Are Dwaarpaalo Kanhiya se Kah do – Hindi Lyrics

अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो Are Dwaarpaalo Kanhiya se Kah do




देखो देखो यह गरीबी, यह गरीबी का हाल,
कृष्ण के दर पे यह विशवास ले के आया हूँ ।
मेरे बचपन का दोस्त हैं यह श्याम,
येही सोच कर मैं आस ले कर के आया हूँ ॥
अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो,
दर पे सुदामा गरीब आ गया है ।
भटकते भटकते ना जाने कहाँ से,
तुम्हारे महल के करीब आ गया है ॥

ना सर पे हैं पगड़ी, ना तन पे हैं जामा
बतादो कन्हैया को नाम है सुदामा ।
इक बार मोहन से जाकर के कहदो,
मिलने सखा बदनसीब आ गया है ॥

सुनते ही दोड़े चले आये मोहन,
लगाया गले से सुदामा को मोहन ।
हुआ रुकमनी को बहुत ही अचम्भा,
यह मेहमान कैसा अजीब आ गया है ॥




You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *